Chandra Grahan 2023: 28 अक्टूबर को लगेगा साल का आखिरी चंद्र ग्रहण, जानें ग्रहण का समय सूतक और कहां-कहां दिखाई देगा

Chandra Grahan 2023: 2023 का आखिरी चंद्र ग्रहण 28 अक्टूबर की रात को लगेगा। यह ग्रहण भारत, यूरोप, एशिया और ऑस्ट्रेलिया के कुछ हिस्सों में दिखाई देगा। ग्रहण का समय भारतीय समयानुसार रात 11 बजकर 32 मिनट से शुरू होकर रात 2 बजकर 22 मिनट तक रहेगा।

Chandra Grahan 2023: 28 अक्टूबर को लगेगा साल का आखिरी चंद्र ग्रहण, जानें ग्रहण का समय सूतक और कहां-कहां दिखाई देगा
Chandra Grahan 2023: 28 अक्टूबर को लगेगा साल का आखिरी चंद्र ग्रहण, जानें ग्रहण का समय सूतक और कहां-कहां दिखाई देगा

ग्रहण के दौरान चंद्रमा लाल हो जाता है इसीलिए इसे “लाल चंद्र” के रूप में भी जाना जाता है। यह तब होता है जब चंद्रमा पृथ्वी की छाया से होकर गुजरता है। पृथ्वी के वायुमंडल में मौजूद धूल और गैसें चंद्रमा के प्रकाश को विक्षेपित करती हैं जिससे वह लाल रंग में दिखाई देता है।

28 अक्टूबर को लगने वाला चंद्र ग्रहण किस प्रकार का है?

28 अक्टूबर को लगने वाला चंद्र ग्रहण आंशिक चंद्र ग्रहण होगा। इस ग्रहण में चंद्रमा का केवल कुछ हिस्सा पृथ्वी की छाया में आएगा।

28 अक्टूबर को लगने वाला चंद्र ग्रहण कब और कहां दिखाई देगा?

28 अक्टूबर को लगने वाला चंद्र ग्रहण भारत, दक्षिण अमेरिका, अफ्रीका, यूरोप और एशिया के कुछ हिस्सों में दिखाई देगा। यह ग्रहण भारत में रात 11:30 बजे से शुरू होगा और रात 2:24 बजे तक रहेगा।

28 अक्टूबर को लगने वाले चंद्र ग्रहण का सूतक काल क्या है?

28 अक्टूबर को लगने वाले चंद्र ग्रहण का सूतक काल 28 अक्टूबर की दोपहर 4:05 मिनट से शुरू होगा और 28 अक्टूबर की रात 8:28 मिनट तक रहेगा।

ग्रहण का समय

ग्रहण प्रारम्भ होगा – मध्य रात्रि 01:05
ग्रहण मध्य में पहुंचेगा – मध्य रात्रि 01:44
ग्रहण समाप्त होगा – मध्य रात्रि 02:24
ग्रहण अवधि रहेगा – 01घण्टा 19 मिनट

ग्रहण का प्रभाव

ग्रहण का प्रभाव सभी राशियों पर पड़ता है। कुछ राशियों पर ग्रहण का सकारात्मक प्रभाव पड़ता है, जबकि कुछ राशियों पर नकारात्मक प्रभाव पड़ता है। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, ग्रहण के दौरान जन्म लेने वाले बच्चों पर भी ग्रहण का प्रभाव पड़ता है।

ग्रहण का वैज्ञानिक कारण

ग्रहण का वैज्ञानिक कारण पृथ्वी के अपने अक्ष पर घूमना और सूर्य के चारों ओर चक्कर लगाना है। जब पृथ्वी सूर्य और चंद्रमा के बीच आ जाती है, तो चंद्रमा सूर्य की रोशनी से ढक जाता है। इस घटना को चंद्र ग्रहण कहा जाता है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top