GK Questions: परखें अपना धार्मिक ज्ञान, राम मंदिर से जुडे़ इन प्रश्नों के उत्तर क्या जानते हैं?

GK Questions: परखें अपना धार्मिक ज्ञान, राम मंदिर से जुडे़ इन प्रश्नों के उत्तर क्या जानते हैं? : GK Questions: अयोध्या में राम मंदिर में भव्य तरीके से रामलाल की प्राण प्रतिष्ठा की गई है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मुख्य यजमान बने और गर्भगृह में रामलला की पूजा की. इस समारोह के दौरान रामलला की मूर्ति को मंदिर के गर्भगृह में स्थापित किया गया। रामलला की मूर्ति की प्राण प्रतिष्ठा का समारोह दोपहर 12.20 बजे शुभ नक्षत्र में शुरू हुआ और 1 बजे तक पूरा हो गया।

GK Questions: परखें अपना धार्मिक ज्ञान, राम मंदिर से जुडे़ इन प्रश्नों के उत्तर क्या जानते हैं?
GK Questions: परखें अपना धार्मिक ज्ञान, राम मंदिर से जुडे़ इन प्रश्नों के उत्तर क्या जानते हैं?

दरअसल, अयोध्या भगवान राम और राम मंदिर इन दिनों पूरे देश में चर्चा का विषय बना हुआ है। हर तरफ भगवान राम के जयकारे की गूंज है. लाखों राम भक्त दर्शन-पूजन के लिए कतार में खड़े हैं. आगामी प्रतियोगी परीक्षाओं में राम मंदिर से जुड़े प्रश्न पूछे जा सकते हैं. जैसे भगवान राम की मूर्ति किसने बनाई? अयोध्या का राम मंदिर किस शैली पर बना है? राम मंदिर में किन पत्थरों का हुआ है इस्तेमाल? आज हम आपको इस रिपोर्ट में इन सभी सवालों के जवाब बताएंगे।

किस शैली पर बना है प्रभु राम का मंदिर ?

अयोध्या में प्रभु राम का भव्य महल नागर शैली में बनाया गया है

 

राम मंदिर निर्माण में कैसे पत्थर लगाए गए हैं?

अयोध्या के राम मंदिर का निर्माण राजस्थान के मकराना पत्थरों से किया गया है. यह दुनिया के बेहतरीन पत्थरों में से एक है.

 

किसने तैयार की प्रभु राम की प्रतिमा?

मैसूर, कर्नाटक के रहने वाले मूर्तिकार अरुण योगिराज ने भगवान राम की मूर्ति बनाई है

 

किसने बनाया राम मंदिर का डिजाइन?

राम मंदिर की डिजाइन प्रयागराज के रहने वाले चंद्रकांत सोमपुरा और उनके बेटे आशीष सोमपुरा ने तैयार किया है. बताया जाता है कि उनकी जोड़ी देश में कई मंदिरों का निर्माण भी कर चुकी है .

 

राम मंदिर परिसर में और किसके मंदिर होंगे ?

राम मंदिर परिसर के चारों तरफ और भी मंदिर बनाए जाएंगे. जिसमें भगवान सूर्य, देवी भगवती, भगवान गणेश, भगवान शंकर, माता अन्नपूर्णा, पवन पुत्र हनुमान के अलावा माता शबरी, महर्षि विश्वामित्र ,महर्षि अगस्त, महर्षि वाल्मीकि, निषाद राज के भी मंदिर बनाए जाएंगे.

 

इस दिशा में है मंदिर का प्रवेश द्वार?

राम मंदिर के प्रवेश द्वार को पूर्व दिशा में बनाया गया है।

 

डिस्क्लेमर (अस्वीकरण): हम यह दावा नहीं करते कि इस लेख में दी गई जानकारी पूर्णतया सत्य एवं सटीक है। विस्तृत और अधिक जानकारी के लिए कृपया संबंधित क्षेत्र के विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें। संपूर्णता के लिए rajasthanbreaking उत्तरदायी नहीं है यदि इस पोस्ट में कोई गलती पाई जाती है तो इस वेबसाइट या इस वेबसाइट का मालिक किसी भी प्रकार से जिम्मेदार नहीं होगा।

 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top