Good News Contract Workers: संविदाकर्मियों के लिए बड़ा अपडेट, 3 साल तक नौकरी करने वाले अब हो सकेंगे परमानेंट, जानिए पूरी रिपोर्ट!

Good News Contract Workers: आगया है सभी कर्मचारिओं के लिए खुशखबरी। संविदा पर 3 साल तक नौकरी करने वाले अब नियमित हो सकेंगे। सीएम अशोक गहलोत ने इसकी मंजूरी प्रदान कर दी है। राज्य सरकार की किसी योजना या प्रोजेक्ट में 3 साल तक संविदा पर काम करने वाले नियमित नियुक्ति के लिए पात्र होंगे। ऐसे कर्मचारियों को स्क्रीनिंग की प्रक्रिया में शामिल कर लिया जाएगा। क्रमिक विभाग ने इसको लेकर संविदा कर्मियों को नियमित नियुक्ति देने संबंधी 1 साल पुराने नियम में संशोधन किया है।

Good News Contract Workers: संविदाकर्मियों के लिए बड़ा अपडेट, 3 साल तक नौकरी करने वाले अब हो सकेंगे परमानेंट, जानिए पूरी रिपोर्ट!
Good News Contract Workers: संविदाकर्मियों के लिए बड़ा अपडेट, 3 साल तक नौकरी करने वाले अब हो सकेंगे परमानेंट, जानिए पूरी रिपोर्ट!

बुधवार को उसके लिए अधिसूचना जारी कर दी गई है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के नेतृत्व में राज्य सरकार ने विभिन्न कार्मिक वर्गों के लिए कई संवेदनशील निर्णय लिए हैं। इसी के तहत सीएम गहलोत ने राज्य में राजस्थान कॉन्ट्रेक्चुअल हायरिंग टू सिविल पोस्ट्स रूल्स-2022 के अंतर्गत संविदा पर कार्यरत 10528 कार्मिकों को नियमित करने के लिए नए पदों के सृजन की मंजूरी दी है।

बड़ी खबर! 4966 नए पदों के सृजन की स्वीकृति

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने महात्मा गांधी नरेगा योजना के अंतर्गत 9 वर्ष या इससे अधिक कार्यानुभव रखने वाले संविदा कर्मचारियों के लिए संविदा पदों के स्थान पर 4966 नए पदों की स्थापना की मंजूरी दी है। ये पद ग्रामीण विकास विभाग के प्रशासनिक नियंत्रण में होंगे। इन नए पदों में शामिल हैं:

कनिष्ठ तकनीकी सहायक: 1698 पद
ग्राम रोजगार सहायक: 1548 पद
डाटा एंट्री सहायक: 699 पद
लेखा सहायक: 622 पद
एम.आई.एस. मैनेजर: 159 पद
सहायक: 150 पद
समन्वयक (अभिसरण एवं मूल्यांकन): 48 पद
समन्वयक (आई.ई.सी./प्रशिक्षण/पर्यवेक्षण): 40 पद
प्रोग्रामिंग एवं एनालिसिस विशेषज्ञ व प्रोग्रामिंग विशेषज्ञ: 1-1 पद

मदरसा में 5562 कार्मिक होंगे नियमित

समाचार आई है कि सीएम गहलोत ने राजस्थान मदरसा बोर्ड में भी 9 वर्षों से अधिक कार्यानुभव रखने वाले कार्मिकों को नियमित करने के लिए संविदा पदों के स्थान पर 5562 पदों के सृजन का फैसला किया है। नवसृजित पदों में शामिल हैं:

शिक्षा अनुदेशक: 5220 पद
कम्प्यूटर अनुदेशक: 215 पद
कम्प्यूटर शिक्षा सहयोगी: 88 पद
शिक्षा सहयोगी: 39 पद

यह कदम राजस्थान के शिक्षा तंत्र को मजबूत करने के लिए एक महत्वपूर्ण पहल है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top