IAS IPS Power: आईएएस और IPS में से कौन होता है सबसे ज्यादा पावरफुल? सैलरी के साथ मिलती है ये सुविधाएं

IAS IPS Power: आईएएस और IPS में से कौन होता है सबसे ज्यादा पावरफुल? सैलरी के साथ मिलती है ये सुविधाएं : Difference between IAS and IPS Administrative Power: संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) की सिविल सर्विस एग्जाम (Civil Service Exam) में हर साल लाखों छात्र शामिल होते हैं, लेकिन कुछ को ही सफलता मिल पाती है, जिनका चयन आईएएस, आईपीएस, आईईएस या आईएफएस अधिकारी के रूप में होता है. भले ही इन सभी अधिकारियों का चयन एक ही एग्जाम से होता है, लेकिन इनका काम अलग-अलग होता है और उनकी भूमिकाएं भी अलग होती हैं. तो चलिए आपको बताते हैं कि आईएएस और आईपीएस के काम में क्या अंतर (Difference between IAS and IPS) होता है और दोनों में ज्यादा पावरफुल कौन होता है.

IAS IPS Power: आईएएस और IPS में से कौन होता है सबसे ज्यादा पावरफुल? सैलरी के साथ मिलती है ये सुविधाएं
IAS IPS Power: आईएएस और IPS में से कौन होता है सबसे ज्यादा पावरफुल? सैलरी के साथ मिलती है ये सुविधाएं

वहीं IPS डायरेक्‍ट केंद्रीय गृह मंत्रालय के नियंत्रण में रहते हैं. एक IAS अधिकारी का वेतन IPS ऑफिसर की तुलना में ज्यादा होता है. किसी एक क्षेत्र में एक ही IAS अधिकरी को अपाइंट किया जाता है, जबकि IPS ऑफिसर की संख्‍या कम और ज्‍यादा हो सकती है. इस तरह से एक IAS अधिकारी का वेतन, पद और अधिकार IPS अधिकारी से बेहतर होते हैं.

इनके पास होते हैं बॉडीगार्ड

एक IPS अधिकारी की जिम्मेदारी होती है कि वे उसके क्षेत्र में लॉ एण्‍ड ऑर्डर को सही बना कर रखे. इसके अलावा अपराध की जांच करने का काम भी इन्‍हीं का होता है. IPS अधिकारी ड्यूटी के दौरान वर्दी में रहते हैं, जबकि किसी IAS अधिकारी के लिए कोई ड्रेस कोड नहीं होता है. ये ऑफिसर फॉर्मल ड्रेस में होते हैं. IAS अधिकारी को पोस्ट के आधार पर गाड़ी, बंगला और बॉडीगार्ड जैसी सुविधाएं दी जाती हैं. वहीं IPS अधिकारी के साथ पूरी पुलिस फोर्स रहती है.

एक साथ होती है IAS-IPS की ट्रेनिंग

IAS अधिकारी और IPS अधिकारी का काम भले ही अलग होता है, लेकिन फिर भी इन दोनों अधिकारियों की ट्रेनिंग कुछ महीने साथ में होती है. इन अधिकारियों को 3 महीने की फाउंडेशन ट्रेनिंग दी जाती है. उसके बाद IPS अधिकारी ट्रेनिंग के लिए हैदराबाद चले जाते हैं।

 

Leave a Comment