Mobile Addiction: सोते समय खुद से कितना दूर रखे स्मार्टफोन? WHO ने दी चेतावनी

Mobile Addiction: मोबाइल के बिना हम अपनी जिंदगी की शायद कल्पना भी नहीं कर सकते हैं। हम मोबाइल फोन के इतने ज्यादा आदि हो चुके हैं कि सुबह उठते ही सबसे पहले अपना स्मार्टफोन चेक करते हैं। बहुत सारे लोगों की तो आदत इतनी खराब हो चुकी है कि लोग खाते समय सोते समय यहां तक की शौचालय में भी अपने साथ मोबाइल लेकर जाते हैं। अब इस बात से आप समझ सकते हैं कि आपको मोबाइल की लत लग चुकी है। बहुत सारे लोग अपने तकिए के नीचे अपना स्मार्टफोन रख कर सो जाते हैं जो बहुत ज्यादा खतरनाक साबित हो सकता है।

आपको सोते समय अपने स्मार्टफोन को खुद से कितनी दूर रखना चाहिए यह आपको जरूर पता होना चाहिए। ज्यादातर लोगों को इसके बारे में बिल्कुल पता नहीं होता है फोन को अपने सर के पास अथवा तकिए के नीचे रखकर सोने से कई प्रकार की समस्याएं होती हैं। WHO ने हाल ही में वार्निंग रिपोर्ट जारी की थी जिसमे बताया था कि 90% किशोर और 68% वयस्क हमेशा अपने पास में तकिए के नीचे या बेड पर मोबाइल फोन रख कर सोते हैं।

Mobile Addiction: सोते समय खुद से कितना दूर रखे स्मार्टफोन? WHO ने दी चेतावनी

सोते समय कितनी दूर रखें फोन

हालांकि इसका कोई रुल नहीं है लेकिन अगर आपके स्मार्टफोन में रेडिएशन का लेवल ज्यादा है तो आपको स्मार्टफोन को दूर रखना ही बेहतर है। स्मार्टफोन जब बंद रहता है उस दौरान भी उसमें से रेडिएशन बाहर निकलता रहता है। ऐसे में आपको सोते समय कम से कम स्मार्टफोन को तीन फीट की दूरी पर रखना जरूरी है ताकि इसमें से निकलने वाली रेडियो फ्रीक्वेंसी इलेक्ट्रोमैग्नेटिक रेडिएशन की शक्ति कम हो जाए और आप उसके नुकसान से खुद को बचा पाए।

अगर आपकी मांसपेशियों में हमेशा दर्द रहता है, सर दर्द रहता है और प्रजनन क्षमता प्रभावित है तो आप कुछ दिन अपने मोबाइल को खुद से दूर रखकर सोए। शायद आपकी समस्या दूर हो सकती है। मोबाइल फोन के अंदर से नीले रंग की रोशनी निकलती है जो हमारी बॉडी के कई प्रकार के हार्मोन के संतुलन को बिगाड़ देती है। जिससे नींद आने में समस्या होने लगती है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top