PM KISAN: 15वीं किस्त मिलने से पहले करें ये काम, वरना अटक सकती हैं अगली किस्त की राशि, इस दिन खाते में आएंगे 2000 रुपए

PM KISAN: 15वीं किस्त मिलने से पहले करें ये काम, वरना अटक सकती हैं अगली किस्त की राशि, इस दिन खाते में आएंगे 2000 रुपए : PM Kisan 15 Installment Update : पीएम किसान सम्मान निधि योजना केंद्र सरकार की बड़ी योजनाओं में से एक है। इसे लेकर एक अहम खबर सामने आई है. अगर आपने अभी तक ईकेवाईसी और आधार कार्ड को अपने बैंक खाते से लिंक नहीं किया है तो जल्द कर लें, नहीं तो अगली किस्त के लाभ से वंचित रह जाएंगे। ई-केवाईसी के लिए लाभार्थी किसान योजना के पोर्टल pmkisan.gov.in पर जाकर या अपने नजदीकी केंद्र से कर सकते हैं।

PM KISAN: 15वीं किस्त मिलने से पहले करें ये काम, वरना अटक सकती हैं अगली किस्त की राशि, इस दिन खाते में आएंगे 2000 रुपए
PM KISAN: 15वीं किस्त मिलने से पहले करें ये काम, वरना अटक सकती हैं अगली किस्त की राशि, इस दिन खाते में आएंगे 2000 रुपए

अगर आप नाम सूची देखना चाहते हैं तो आप इस वेबसाइट pmkisan.gov.in पर जाकर देख सकते हैं कि आपका नाम सूची में है या नहीं। पीएम किसान योजना केंद्र सरकार की बड़ी योजनाओं में से एक है, जिसके तहत पात्र किसानों को हर साल 6,000 रुपये की वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है।

यह पैसा लाभार्थियों के खाते में हर 4 महीने में 2000 रुपये की 3 बराबर किस्तों में डीबीटी के माध्यम से भेजा जाता है। अब तक योजना की 14 किस्तें किसानों के खातों में भेजी जा चुकी हैं और अब 15वीं किस्त भेजी जानी बाकी है. उम्मीद है कि जल्द ही किसानों के खाते में किस्त का पैसा भेज दिया जाएगा. हालांकि, अगली किस्त के बारे में अभी तक कोई जानकारी नहीं मिली है.

15वीं किस्त से पहले पूरा करें ये 3 काम

अगर आप योजना के लाभार्थी हैं और अभी तक अपनी जमीन के दस्तावेज पोर्टल पर अपलोड नहीं किए हैं तो जल्दी काम पूरा कर लें, नहीं तो किस्त का नुकसान हो सकता है।

पीएम किसान योजना के तहत प्रत्येक लाभार्थी को ई-केवीईसी बनवाना अनिवार्य है, ऐसा न करने पर आप किस्त के लाभ से वंचित हो सकते हैं। इसलिए आप योजना के पोर्टल pmkisan.gov.in पर जाकर, अपने नजदीकी सीएससी सेंटर पर जाकर या बैंक से ई-केवाईसी करा सकते हैं।

पीएम किसान योजना से जुड़े लाभार्थियों को अपना आधार कार्ड अपने सक्रिय बैंक खाते से लिंक कराना अनिवार्य है। अगर किसान ऐसा नहीं करते हैं तो वे किस्त के लाभ से वंचित हो सकते हैं.

क्या एक से अधिक सदस्यों को मिलेगा योजना का लाभ?

पीएम किसान योजना को लेकर अक्सर ये सवाल सामने आते हैं कि क्या पति-पत्नी या पिता-पुत्र या परिवार के एक से अधिक सदस्यों को पीएम किसान योजना के तहत सम्मान निधि राशि का लाभ मिल सकता है, क्या एक से अधिक सदस्य इसके लाभार्थी हो सकते हैं। कर सकना। कर सकता है? हो पाता है? तो उत्तर नहीं है। चूंकि सरकारी नियमों के मुताबिक पीएम किसान योजना का लाभ परिवार के केवल एक ही सदस्य को मिल सकता है. यदि परिवार में पति-पत्नी या पिता, पुत्र या एक से अधिक सदस्यों को इस योजना का लाभ मिला है, तो उनसे राशि की वसूली की जा सकती है, क्योंकि ऐसे लोग इस किसान सम्मान निधि के लिए पात्र नहीं हैं। केंद्र सरकार भी कई बार स्पष्ट कर चुकी है कि पीएम किसान योजना का लाभ किसान परिवार में केवल एक ही व्यक्ति को दिया जाता है।

PM Kisan Yojana 15वीं किस्त: इस महीने आ सकती है खुशखबरी

इसके साथ ही जो किसान प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि की 15वीं किस्त का इंतजार कर रहे हैं उनके लिए कुछ बातें जानना और इससे जुड़ी प्रक्रिया पूरी करना बेहद जरूरी है. अन्यथा उनकी 15वीं किस्त भी अटक सकती है. माना जा रहा है कि नवंबर के आखिरी हफ्ते या दिसंबर के पहले हफ्ते में यह रकम किसानों के खाते में भेजी जा सकती है.

PM Kisan Yojana 15वीं किस्त: ऐसे जानें अपनी किस्त की स्थिति

इसके साथ ही जिन किसानों की किस्त अभी तक नहीं आई है। वे पीएम किसान की वेबसाइट- https://pmkisan.gov.in/ पर जाकर अपना स्टेटस चेक कर सकते हैं। इसके बाद वहां नो योर स्टेटस टैब पर क्लिक करें। वहां एक नया पेज खुलेगा. जहां अपना पीएम किसान पंजीकरण नंबर और कैप्चा कोड दर्ज करें। इसके बाद Get Data पर क्लिक करें। आपकी स्थिति बता दी जाएगी.

PM Kisan Yojana 15वीं किस्त: जल्द आ रही है, लिखा है तो करें ये काम

कई किसानों के स्टेटस में ‘कमिंग सून’ का मैसेज लिखा नजर आ रहा है. इस बारे में चिंता करने की कोई जरूरत नहीं है.’ ऐसे लोगों को https://pmkisan.gov.in/ पर जाना चाहिए और पेज के दाएं कोने पर ‘लाभार्थी सूची’ टैब पर क्लिक करना चाहिए। ड्रॉप-डाउन से राज्य, जिला, उप-जिला, ब्लॉक और गांव जैसे विवरण चुनें। इसके बाद सीधे ‘गेट रिपोर्ट’ टैब पर क्लिक करें। इसके बाद आपके सामने लाभार्थी सूची का विवरण आ जाएगा।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top