Valiant Lab IPO: पैरासीटामोल बनाने वाली कंपनी का खुल गया आईपीओ, ग्रे मार्केट से ये हैं संकेत

Valiant Lab IPO: Paracetamol बनाने वाली कंपनी Valiant Lab का IPO सब्सक्रिप्शन के लिए खुल गया है। IPO में अगले हफ्ते 3 October तक पैसे लगा सकेंगे। इसके 152 करोड़ रूपया के IPO के तहत सिर्फ नए शेयर जारी होंगे। चेक करें कि कंपनी के शेयरों को लेकर Grey market में क्या रुझान है और IPO के जरिए जुटाए गए पैसों का इस्तेमाल कंपनी कैसे करेगी?

Valiant Lab IPO: Paracetamol बनाने वाली कंपनी Valiant Lab का IPO सब्सक्रिप्शन के लिए खुल गया है। IPO में अगले हफ्ते 3 October तक पैसे लगा सकेंगे। इसके 152 करोड़ रूपया के IPO के तहत सिर्फ नए शेयर जारी होंगे। हालांकि market exparts के मुताबिक ग्रे मार्केट से मिले संकेतों की बजाय कंपनी के financial और fundamentals के आधार पर IPO में निवेश से जुड़ा फैसला लेना चाहिए। IPO की सफलता के बाद इसके शेयरों की BSE और NSE पर लिस्टिंग होगी।

Valiant Lab IPO: पैरासीटामोल बनाने वाली कंपनी का खुल गया आईपीओ, ग्रे मार्केट से ये हैं संकेत

Valiant Lab IPO के Details

Valiant Lab का 152.46 करोड़ रूपया का IPO सब्सक्रिप्शन के लिए 3 October तक खुला रहेगा। इस IPO में 133-140 रूपया के प्राइस बैंड और 105 शेयरों के लॉट में पैसे लगा सकते हैं। IPO का आधा हिस्सा Qualified Institutional Buyers (QIB), 15 फीसदी non institutional investor (NII) और 35 फीसदी खुदरा निवेशकों के लिए आरक्षित है। IPO की सफलता के बाद शेयरों का अलॉटमेंट 5 October को फाइनल होगा और फिर 9 October को BSE और NSE पर एंट्री होगी। इश्यू का रजिस्ट्रार लिंक इनटाइम होगा।

इस IPO के तहत 10 रूपया की फेस वैल्यू वाले 1,08,90,000 नए शेयर जारी होंगे। इन शेयरों के जरिए जुटाए गए पैसों का इस्तेमाल सब्सिडियरी Vizag Seaport Private Limited (VASPL) का नया प्लांट लगाने, इस सब्सिडियरी की वर्किंग मूलधन की जरूरतों को पूरा करने और आम कॉरपोरेट उद्देश्यों में होगा।

Valiant Lab के बारे में

1980 में बनी यह Valiant Laboratories फार्मा इनग्रेडिएंट बनाती है। इसका फोकस Paracetamol बनाने पर है। इसका प्लांट Maharashtra के Palghar में है। यह चीन और कंबोडिया से पैरा एमिनो फिनॉल आयात करती है जिसका इस्तेमाल Paracetamol बनाने में होता है। कंपनी के वित्तीय सेहत की बात करें तो पिछले वित्त वर्ष इसकी सेहत मं काफ़ी सुधार हुआ है।

वित्त वर्ष 2021 में इसे 30.59 करोड़ रूपया का शुद्ध मुनाफा हुआ था जो अगले ही वित्त वर्ष गिरकर 27.50 करोड़ रूपया रह गया। हालांकि फिर अगले ही वित्त वर्ष 2023 में इसका शुद्ध मुनाफा बढ़कर 29 करोड़ रूपया पर पहुंच गया।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top